अंबानी-बेजोस की सबसे बड़ी डील संभव!:मुकेश अंबानी के रिटेल कारोबार में हिस्सा खरीद सकता है अमेजन? रिलायंस ने दिया 40% हिस्सेदारी खरीदने का ऑफर

  • रिलायंस और अमेजन के बीच यह डील 1.47 लाख करोड़ में हो सकती है
  • इससे पहले अमेजन कर चुकी है रिलायंस रिटेल में निवेश की बात

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लि. (RIL) ने दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन.इन (Amazon.in) को अपने रिटेल कारोबार रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) शाखा में 20 बिलियन डॉलर ( लगभग 1.47 लाख करोड़) की हिस्सेदारी ऑफर की है।

ब्लूमबर्ग कि रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने रिलायंस रिटेल कारोबार में 40% हिस्सेदारी खरीदने के लिए अमेजन को ऑफर दिया है। यानी कि अगर ये डील होती है तो रिलायंस अपनी रिटेल सबसीडियरी में 40% हिस्सा अमेजन को दे सकती है।

यह रिलायंस की सबसे बड़ी डील हो सकती है

रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि अमेजन इंक ने रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड शाखा में निवेश दिलचस्पी दिखाई है। हालांकि, इस डील को लेकर रिलायंस की तरफ से अभी कोई जवाब नहीं आया है। वहीं, अगर अमेजन इंक और रिलायंस इंडस्ट्री के बीच यह डील हो जाती है तो यह रिलायंस की अब तक की सबसे बड़ी डील होगी।

7500 करोड़ रुपए का निवेश करेगी सिल्वर लेक

रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर लगातार चौथे दिन बढ़त हासिल करते हुए आल टाइम हाई 2089.90 रुपए के स्तर पर पहुंच गए। बुधवार को अमेरिकी कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स ने रिलायंस रिटेल में 7500 करोड़ रुपए के निवेश का ऐलान किया है। इसके साथ ही बीएसई पर रिलायंस का मार्केट कैप बढ़कर 14.07 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गया। बता दें कि इससे पहले सिल्वर लेक ने रिलायंस की टेक कंपनी जियो प्लेटफॉर्म में भी निवेश किया था। रिलायंस ने अपनी डिजिटल शाखा रिलायंस जियो के लिए अप्रैल से अब तक कई निवेशकों से करीब 20 डॉलर जुटाए हैं। इन निवेशकों में गूगल और फेसबुक जैसे दिग्गज शामिल हैं।

रिटेल कारोबार में छाने की तैयारी में मुकेश अंबानी

तेल से लेकर टेलीकॉम कारोबार करने वाले रिलायंस समूह के चेयरमैन मुकेश अंबानी भारत में रिटेल कारोबार में छाने की तैयारी कर रहे हैं। इस विस्तार के लिए मुकेश अंबानी संभावित निवेशकों की तलाश कर रहे हैं। हाल ही में एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि अमेरिका की दिग्गज रिटेल कंपनी वॉलमार्ट इंक भी रिलायंस रिटेल में हिस्सेदारी खरीदने के लिए बातचीत कर रही है। वॉलमार्ट इंक ने 2018 में ही भारत की दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट को भी खरीदा था।

रिलायंस रिटेल और फ्यूचर ग्रुप की डील 24713 करोड़ में हुई

रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) फ्यूचर ग्रुप की रिटेल एंड होलसेल बिजनेस और लॉजिस्टिक्स एंड वेयरहाउसिंग बिजनेस का अधिग्रहण करने जा रही है। इससे रिलायंस, फ्यूचर ग्रुप के बिग बाजार, ईजीडे और FBB के 1,800 से अधिक स्टोर्स तक पहुंच बनाएगी, जो देश के 420 शहरों में फैले हुए हैं। यह डील 24713 करोड़ में फाइनल हुई है।

रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) के बारे में

रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड, रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी है। यह रिलायंस ग्रुप की सभी रिटेल कंपनियों की होल्डिंग कंपनी है। 31 मार्च, 2020 को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड का टर्नओवर 162936 करोड़ रुपए रहा। वहीं इस दौरान कंपनी को 5448 करोड़ रुपए का मुनाफा भी हुआ। ये कंपनी दुनिया की सबसे तेज बढ़ने वाली रिटेल कंपनियों में 56 वें स्थान पर है। वहीं, रिलायंस इंडस्ट्रीज देश की सबसे बड़ी प्राइवेट कंपनी है। इसका सालाना टर्नओवर 659205 करोड़ रुपए है। वहीं कंपनी को 31 मार्च 2020 को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में 39880 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था।

#NEWSPRAVAKTA #UPDATES #INDIA

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *