World

पाकिस्तान में शिया-सुन्नी में टकराव:आतंकी संगठन के कहने पर हजारों पाकिस्तानियों ने शिया समुदाय के खिलाफ रैली निकाली, उन्हें काफिर कहा और सबको मारने की धमकी दी

  • मुहर्रम पर आशूरा जुलूस के दौरान शिया धर्म गुरु पर इस्लाम के खिलाफ बोलने का आरोप
  • यहां 5 साल में सैकड़ों शिया मुसलमानों की हत्या हो चुकी है, कई अभी भी लापता

पाकिस्तान में आतंकी संगठन सिपाह-ए-सहाबा पाकिस्तान (एसएसपी) ने शिया मुसलमानों के खिलाफ सुन्नी समुदाय के लोगों को भड़काना शुरू कर दिया है। शुक्रवार को इसकी बानगी कराची की सड़कों पर देखने को मिली। यहां हजारों की संख्या में लोग एसएसपी के बुलावे पर प्रदर्शन करने पहुंचे। भीड़ ने ”शिया काफिर हैं” के नारे लगाए। शिया मुसलमानों को जान से मारने की धमकी दी।

सोशल मीडिया पर भी छिड़ी जंग
सोशल मीडिया पर भी शिया-सुन्नी में जंग छिड़ गई। देखते ही देखते ट्वीटर पर #ShiaGenocide ट्रेंड करने लगा। इसमें एक तरफ सुन्नी समुदाय के लोग शियाओं के खिलाफ कमेंट कर रहे थे तो दूसरी ओर शिया समुदाय के लोगों ने इस्लाम और इंसानियत का हवाला देते हुए ऐसे हमले बंद करने की मांग की। शिया समुदाय के एक युवक ने मीट शेयर करते हुए सुन्नी समुदाय से पूछा, ”आप इस्लाम को शांति का धर्म बताते हो और दूसरी ओर इंसानियत का खून भी करते हो।

इस्लाम विरोधी कमेंट करने का आरोप
न्यूज एजेंसी ने बताया कि पिछले महीने मुहर्रम पर आशूरा जुलूस का टीवी चैनल पर प्रसारण किया गया। आरोप है कि इसमें कुछ शिया धर्म गुरुओं ने इस्लाम के खिलाफ कमेंट किया। पाकिस्तान की सोशल एक्टिविस्ट आफरीन ने ट्वीट किया कि इसके बाद से कई शिया मुस्लिमों पर धार्मिक पुस्तकों को पढ़ने और आशूरा जुलूस में हिस्सा लेने के लिए हमला किया गया।

5 साल में सैकड़ों शिया मुसलमानों की हत्या, कई लापता
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान में पिछले 5 सालों में शिया मुसलमानों के खिलाफ हिंसा काफी बढ़ गई है। इस दौरान सैकड़ों की संख्या में शिया मुसलमानों की हत्या कर दी गई। हत्या करने के बाद हत्यारे खून से ही शियाओं के घर के बाहर ”शिया काफिर हैं” भी लिखते हैं। इसके अलावा कई शिया समुदाय के युवा, महिलाएं अभी लापता हैं।

कुछ साल पहले तक शिया समुदाय के लोगों को मैसेज के जरिए पहले धमकी दी जाती थी और फिर ग्रेनेड से हमला कर उनकी हत्या कर देते थे। शिया मुसलमानों पर हिंसा करने का आरोप आतंकी संगठन एसएसपी पर ही है।

#NEWSPRAVAKTA #INDIA #NEWSUPDATES

कोरोना देश में: 74% एक्टिव केस देश के 9 राज्यों से, इन्हीं राज्यों में सबसे ज्यादा मौतें; अब दिल्ली एयरपोर्ट पर भी हो सकेगी कोरोना की जांच; देश में अब तक 46.63 लाख केस

 

  • देश में अब तक 77 हजार 537 लोगों की मौत हुई, 9.61 लाख का इलाज चल रहा
  • शुक्रवार को देश में रिकॉर्ड 97 हजार 654 नए मरीज बढ़े, 81 हजार 455 लोग ठीक भी हुए

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक्टिव केस के आंकड़े जारी किए हैं। इसके मुताबिक देश में 74% एक्टिव केस यानी ऐसे मरीज जिनका अभी इलाज चल रहा है वो देश के 9 राज्यों में हैं। सबसे ज्यादा 28% मरीज महाराष्ट्र से हैं।

दूसरे नंबर पर कर्नाटक है जहां 11% और तीसरे पर आंध्र प्रदेश है जहां 10% एक्टिव केस है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश में 7%, तमिलनाडु में 5%, ओडिशा में 4%, तेलंगाना, असम और छत्तीसगढ़ में 3-3% एक्टिस केस हैं। बाकी 26% मरीज देश के अन्य राज्य या केंद्र शासित राज्यों से हैं। देश में एक्टिव केस की संख्या अभी 9 लाख 61 हजार 370 है। इन्हीं 9 राज्यों में सबसे ज्यादा 81% मरीजों की मौत भी हो चुकी है।

उधर, दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट देश का पहला एयरपोर्ट बन गया है जहां कोरोना की जांच की सुविधा शुरू हो गई है। दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड ने शनिवार को इसकी शुरुआत कर दी। यहां कोई भी यात्री अपनी कोरोना जांच करवा सकेगा।

देश में मरीजों का आंकड़ा 46.60 लाख हुआ

देश में अब तक 46 लाख 63 हजार 930 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। शुक्रवार को 24 घंटे में रिकॉर्ड 97 हजार 654 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। एक दिन में मिले संक्रमितों का यह आंकड़ा सबसे ज्यादा है। इसके पहले गुरुवार को 96 हजार 760 नए मरीज मिले थे।

इस बीच, राहत की बात है कि मरीजों के ठीक होने की रफ्तार भी तेज होने लगी है। शुक्रवार को रिकॉर्ड 81 हजार 455 लोगों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया। एक दिन में ठीक होने वालों की ये सबसे ज्यादा संख्या है। इसी के साथ ठीक होने वालों की संख्या अब 36 लाख 24 हजार 375 हो गई है। संक्रमण के चलते अब तक 77 हजार 537 लोग जान गंवा चुके हैं।

कोवैक्सीन का एनिमल ट्रायल सफल

कोरोना वैक्सीन को लेकर एक अच्छी खबर है। इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के साथ मिलकर कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन ”कोवैक्सिन” बना रही भारत बायोटेक ने वैक्सीन के एनिमल ट्रायल के सफल होने की जानकारी दी है। कंपनी की तरफ से ट्वीट में कहा गया कि ”भारत बायोटेक गर्व से ‘कोवैक्सीन’ के एनिमल स्टडी के रिजल्ट की घोषणा करता है। यह रिजल्ट लाइव वायरल से प्रोटेक्ट करता है और इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है।”

मुंबई में डॉक्टर्स ने जताया विरोध

उधर, कोरोना मरीजों के इलाज में जुटे मुंबई के रेजिडेंट डॉक्टर्स ने छुट्‌टी के नियमों में किए गए बदलाव पर विरोध जताया है। डॉक्टर्स ने शनिवार को काली पट्‌टी बांधकर काम करना शुरू किया। बता दें कि महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना के इलाज में लगे डॉक्टर्स को अब हफ्ते में एक दिन छुट्‌टी देने का ऐलान किया है, जबकि पहले कुछ दिन लगातार काम करने के बाद डॉक्टर्स को 7 दिन क्वारैंटाइन में रहने की छूट दी जाती थी।

  • कोरोना अपडेट्स
    • ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) ने कोरोना वैक्सीन के फेज-2 और 3 के ट्रायल में किसी नए मरीज की भर्ती पर रोक लगा दी है। शुक्रवार को डीसीजीआई ने इसके लिए आदेश जारी कर दिया। अगले आदेश तक ट्रायल के लिए किसी नए मरीज की भर्ती न की जाए। इस नोटिस के जवाब में सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा कि जब तक वैक्सीन की सुरक्षा की स्थिति साफ नहीं होती है, तब तक किसी नए मरीज पर ट्रायल नहीं किया जाएगा।
    • कोरोना से स्वस्थ हो चुके मरीजों के दोबारा संक्रमित होने के मामले बढ़ने लगे हैं। अब तक गुजरात, पंजाब, कर्नाटक, महाराष्ट्र, दिल्ली और तेलंगाना में ऐसे मामले सामने आ चुके हैं। दोबारा संक्रमण में कितनी सच्चाई है और यदि है तो यह कैसे हो रहा है? इसकी वैज्ञानिक जांच के लिए भारत सरकार ने पहली बार किसी मरीज के दो सैंपल, यानी पहले संक्रमण और दूसरे संक्रमण का नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (पुणे) भेजे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से मिली जानकारी के मुताबिक इस स्टडी के लिए दिल्ली के एक मरीज के सैंपल पुणे भेजे गए हैं।
    • दिल्ली-एनसीआर में शनिवार से मेट्रो की सभी रूट पर ट्रेनें चलने लगीं। इसकी शुरूआत 7 सितंबर से हुई थी। तब यलो लाइन शुरू की गई थी। इसके बाद तीन अलग-अलग फेज में ब्लू, पिंक व अन्य लाइन भी शुरू की गई थीं। अब मेट्रो को पूरी तरह से खोल दिया गया है। इस बीच, दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने शिवाजी स्टेडियम से प्री-पेड ऑटो सर्विस भी शुरू करने का फैसला लिया है। शनिवार से ही दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो स्टेशन के यात्री यहां से ऑटो पकड़ सकेंगे।
    • पुणे में बगैर मास्क घर से बाहर निकलने वालों पर 500 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। पुणे के नगर निगम कमीश्नर ने शुक्रवार को इसके लिए आदेश जारी कर दिया।
    • पंजाब सरकार ने नीट 2020 को देखते हुए 13 सितंबर को लॉकडाउन में छूट का ऐलान किया है। हालांकि, इस दौरान गैर-जरूरी दुकानें बंद रखने का आदेश है।
    • केंद्रीय रेल राज्य मंत्री सुरेश अगाड़ी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी।
    • मुंबई की मेयर किशोरी किशोर पेडनेकर भी संक्रमित हो गई हैं। उन्होंने ट्वीट पर इसकी जानकारी दी।
    • इलाहाबाद हाईकोर्ट में 14 और 15 सितंबर को कोई भी ज्यूडिशियल और एडमिनिस्ट्रेटिव काम नहीं होंगे। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए यह फैसला लिया गया। इन दो दिनों में पूरे परिसर को सैनिटाइज कराया जाएगा।

     

 

अंबानी-बेजोस की सबसे बड़ी डील संभव!:मुकेश अंबानी के रिटेल कारोबार में हिस्सा खरीद सकता है अमेजन? रिलायंस ने दिया 40% हिस्सेदारी खरीदने का ऑफर

  • रिलायंस और अमेजन के बीच यह डील 1.47 लाख करोड़ में हो सकती है
  • इससे पहले अमेजन कर चुकी है रिलायंस रिटेल में निवेश की बात

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लि. (RIL) ने दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन.इन (Amazon.in) को अपने रिटेल कारोबार रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) शाखा में 20 बिलियन डॉलर ( लगभग 1.47 लाख करोड़) की हिस्सेदारी ऑफर की है।

ब्लूमबर्ग कि रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने रिलायंस रिटेल कारोबार में 40% हिस्सेदारी खरीदने के लिए अमेजन को ऑफर दिया है। यानी कि अगर ये डील होती है तो रिलायंस अपनी रिटेल सबसीडियरी में 40% हिस्सा अमेजन को दे सकती है।

यह रिलायंस की सबसे बड़ी डील हो सकती है

रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि अमेजन इंक ने रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड शाखा में निवेश दिलचस्पी दिखाई है। हालांकि, इस डील को लेकर रिलायंस की तरफ से अभी कोई जवाब नहीं आया है। वहीं, अगर अमेजन इंक और रिलायंस इंडस्ट्री के बीच यह डील हो जाती है तो यह रिलायंस की अब तक की सबसे बड़ी डील होगी।

7500 करोड़ रुपए का निवेश करेगी सिल्वर लेक

रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर लगातार चौथे दिन बढ़त हासिल करते हुए आल टाइम हाई 2089.90 रुपए के स्तर पर पहुंच गए। बुधवार को अमेरिकी कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स ने रिलायंस रिटेल में 7500 करोड़ रुपए के निवेश का ऐलान किया है। इसके साथ ही बीएसई पर रिलायंस का मार्केट कैप बढ़कर 14.07 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गया। बता दें कि इससे पहले सिल्वर लेक ने रिलायंस की टेक कंपनी जियो प्लेटफॉर्म में भी निवेश किया था। रिलायंस ने अपनी डिजिटल शाखा रिलायंस जियो के लिए अप्रैल से अब तक कई निवेशकों से करीब 20 डॉलर जुटाए हैं। इन निवेशकों में गूगल और फेसबुक जैसे दिग्गज शामिल हैं।

रिटेल कारोबार में छाने की तैयारी में मुकेश अंबानी

तेल से लेकर टेलीकॉम कारोबार करने वाले रिलायंस समूह के चेयरमैन मुकेश अंबानी भारत में रिटेल कारोबार में छाने की तैयारी कर रहे हैं। इस विस्तार के लिए मुकेश अंबानी संभावित निवेशकों की तलाश कर रहे हैं। हाल ही में एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि अमेरिका की दिग्गज रिटेल कंपनी वॉलमार्ट इंक भी रिलायंस रिटेल में हिस्सेदारी खरीदने के लिए बातचीत कर रही है। वॉलमार्ट इंक ने 2018 में ही भारत की दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट को भी खरीदा था।

रिलायंस रिटेल और फ्यूचर ग्रुप की डील 24713 करोड़ में हुई

रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) फ्यूचर ग्रुप की रिटेल एंड होलसेल बिजनेस और लॉजिस्टिक्स एंड वेयरहाउसिंग बिजनेस का अधिग्रहण करने जा रही है। इससे रिलायंस, फ्यूचर ग्रुप के बिग बाजार, ईजीडे और FBB के 1,800 से अधिक स्टोर्स तक पहुंच बनाएगी, जो देश के 420 शहरों में फैले हुए हैं। यह डील 24713 करोड़ में फाइनल हुई है।

रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) के बारे में

रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड, रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी है। यह रिलायंस ग्रुप की सभी रिटेल कंपनियों की होल्डिंग कंपनी है। 31 मार्च, 2020 को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड का टर्नओवर 162936 करोड़ रुपए रहा। वहीं इस दौरान कंपनी को 5448 करोड़ रुपए का मुनाफा भी हुआ। ये कंपनी दुनिया की सबसे तेज बढ़ने वाली रिटेल कंपनियों में 56 वें स्थान पर है। वहीं, रिलायंस इंडस्ट्रीज देश की सबसे बड़ी प्राइवेट कंपनी है। इसका सालाना टर्नओवर 659205 करोड़ रुपए है। वहीं कंपनी को 31 मार्च 2020 को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में 39880 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था।

#NEWSPRAVAKTA #UPDATES #INDIA

5 राफेल विमान वायुसेना में शामिल:राजनाथ बोले- राफेल का शामिल होना पूरी दुनिया को कड़ा संदेश, खासकर उनके लिए जो हमारे हक पर नजर डाल रहे

  • फ्रांस से 36 राफेल की डील के तहत 5 विमानों का पहला बैच 29 जुलाई को भारत पहुंचा था
  • राफेल चौथी जेनरेशन का सबसे फुर्तीला जेट है, इससे परमाणु हमला भी किया जा सकता है

फ्रांस से खरीदे गए 5 आधुनिक फाइटर जेट राफेल भारत आने के 43 दिन बाद आज अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन पर वायुसेना में शामिल कर लिए गए। इस मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, “राफेल का भारतीय वायुसेना में शामिल होना पूरी दुनिया के लिए कड़ा संदेश है, खासकर उनके लिए जो हमारे हक पर नजर डाल रहे हैं। मैं वायुसेना के साथियों को बधाई देता हूं। हाल ही में एलएसी पर हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना के दौरान आपने जो तेजी और सतर्कता दिखाई, उससे आपके कमिटमेंट का पता चलता है।”

वहीं वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने कहा, “सुरक्षा की मौजूदा स्थिति को देखते हुए राफेल को शामिल करने का इससे अच्छा समय कोई और नहीं हो सकता था।” इससे पहले फ्रांस की डिफेंस मिनिस्टर फ्लोरेंस पार्ले की मौजूदगी में सर्वधर्म यानी हिंदू, मुस्लिम, सिख और इसाई धर्म के अनुसार पूजा की गई। उसके बाद एयर-शो हुआ, जिसमें फाइटर प्लेन ने आसमान में ताकत दिखाई। फिर, लैंडिंग के बाद वॉटर कैनन सैल्यूट दिया गया।

17 गोल्डन एरो स्क्वाड्रन में शामिल हुए राफेल
राफेल फाइटर जेट की अम्बाला स्थित 17 गोल्डन एरो स्क्वॉड्रन में औपचारिक एंट्री इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गई है। 17 साल बाद देश का कोई रक्षा मंत्री अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन पर किसी बड़े समारोह में शामिल हुआ है। इससे पहले अगस्त 2003 में एनडीए सरकार में रक्षा मंत्री रहे जॉर्ज फर्नांडिस ने 73 की उम्र में अम्बाला से मिग-21 बाइसन में उड़ान भरी थी।

फ्रांस ने कहा- यूएन सिक्योरिटी काउंसिल में भारत की उम्मीदवारी का समर्थन करते हैं
राफेल इंडक्शन सेरेमनी में बोलते हुए फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले ने कहा, “आज का दिन भारत-फ्रांस के लिए एक उपलब्धि है। हम अपने रक्षा संबंधों के इतिहास में नया चैप्टर लिख रहे हैं। हम मेक इन इंडिया अभियान के लिए भी कमिटेड हैं। फ्रांस संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएन सिक्योरिटी काउंसिल) में भारत की उम्मीदवारी का समर्थन करता है।”

राफेल की डील और भारत में डिलीवरी
भारत ने फ्रांस के साथ 2016 में 58 हजार करोड़ रुपए में 36 राफेल जेट की डील की थी। इनमें 30 फाइटर जेट और 6 ट्रेनिंग एयरक्राफ्ट होंगे। ट्रेनर जेट्स टू सीटर होंगे और इनमें भी फाइटर जेट जैसे सभी फीचर होंगे। भारत को जुलाई के आखिर में 5 राफेल फाइटर जेट्स का पहला बैच मिला। 27 जुलाई को 7 भारतीय पायलट्स ने राफेल लेकर फ्रांस से उड़ान भरी और 7,000 किमी का सफर तय कर 29 जुलाई को भारत पहुंचे थे।

पिछले साल दशहरे पर राफेल जब भारत को सौंपे गए थे, तब रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने फ्रांस में हिंदू रीति रिवाज से शस्त्र पूजा करते हुए राफेल पर ‘ओम’ बनाकर नारियल चढ़ाया और धागा बांधा था। इस पूजा पर विपक्ष ने सवाल खड़े किए थे।

17 साल पहले जॉर्ज फर्नांडिस ने अम्बाला में मिग-21 उड़ाया था
अगस्त 2003 में एनडीए सरकार में रक्षा मंत्री रहे जॉर्ज फर्नांडिस ने 73 की उम्र में मिग-21 बाइसन में उड़ान भरी थी। उस वक्त मिग-21 हादसों में लगातार पायलटों की मौत की होने की वजह से सरकार पर सवाल उठने लगे थे। इन विमानों को ‘फ्लाइंग कोफिन’ तक कहा जाने लगा था।

रोनाल्डो की एक और उपलब्धि:100 इंटरनेशनल गोल करने वाले दुनिया के दूसरे फुटबॉलर, नेशंस कप में स्वीडन के खिलाफ 2 गोल कर पुर्तगाल को जिताया

  • क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने पुर्तगाल के लिए 165 मैचों में 101 इंटरनेशनल गोल किए
  • ईरान के अली देई ने 149 मैच में सबसे ज्यादा 109 इंटरनेशनल गोल दागे

क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने 10 महीने के लंबे इंतजार के बाद मंगलवार को अपना 100वां इंटरनेशनल गोल पूरा कर लिया है। उन्होंने यह उपलब्धि नेशंस कप में स्वीडन के खिलाफ हासिल की। यह मैच पुर्तगाल ने 2-0 जीता। दोनों गोल रोनाल्डो ने 45वें और 72वें मिनट में किए। पुर्तगाल का अगला मैच 10 अक्टूबर को फ्रांस से होगा।

रोनाल्डो 165 मैच में 101 इंटरनेशनल गोल के साथ दुनिया के दूसरे और यूरोप के पहले खिलाड़ी बन गए हैं। इस लिस्ट में ईरान के अली देई 149 मैच में सबसे ज्यादा 109 इंटरनेशनल गोल के साथ टॉप पर काबिज हैं।

चोट के कारण लीग का पहला मैच नहीं खेल सके थे
इससे पहले पैर के अंगूठे में चोट के कारण रोनाल्डो नेशंस लीग में क्रोएशिया के खिलाफ मैच नहीं खेल सके थे। इससे पहले उन्होंने अपना पिछला मैच 17 नवंबर को यूरो कप के क्वालिफाइंग मैच में लक्समबर्ग के खिलाफ खेला था।

International goals:

Cristiano Ronaldo – 101

Pele – 77

Lionel Messi – 70

Ronaldo Nazario – 62

Diego Maradona – 34

फ्री किक के जरिए रोनाल्डो ने 100वां गोल पूरा किया
रोनाल्डो ने स्वीडन के खिलाफ मैच में ब्रेक से पहले फ्री किक को गोल में तब्दील कर अपना और टीम का खाता खोला। इसके साथ ही उन्होंने अपना 100वां भी गोल पूरा किया। वहीं उन्होंने मैच के 73वें मिनट में पेनाल्टी एरिया से गोल मारकर दूसरा गोल किया।

अगला टारगेट 109 गोल के रिकॉर्ड को तोड़ना है: रोनाल्डो
रोनाल्डो ने कहा, ‘‘मैं 100 गोल का टारगेट हासिल करने में सफल रहा। अब मेरा लक्ष्य 109 गोल के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ना है, जो ईरान के अली देई के नाम दर्ज है। मैं स्टेप बाई स्टेप अपने लक्ष्य की ओर बढ़ रहा हूं। मैं जुनूनी नहीं हूं, क्योंकि मेरा मानना है कि रिकॉर्ड नेचुरल तरीके से आते हैं।’’

यूरोप में नवंबर के बाद कोई इंटरनेशनल मैच नहीं हुए
यूरोप में कोरोना के कारण पिछले नंवबर के बाद कोई भी इंटरनेशनल मैच नहीं हुए हैं। हालांकि ला लिगा, चैम्पियंस लीग और यूरोपा लीग खेले गए हैं। वहीं, 2020 यूरोपा फुटबॉल लीग को भी अगले साल के लिए रद्द कर दिया गया है।

रोनाल्डो ने 2004 में डेब्यू किया था
रोनाल्डो ने अपना पहला इंटरनेशनल मैच ग्रीस के खिलाफ 12 जून 2004 को खेला था। इसमें अपना पहला इंटरनेशनल गोल किया था। जबकि अली देई ने अपने देश के लिए पहला इंटरनेशनल मैच 25 जून 1993 को ताइपे के खिलाफ खेला था। अली ने पहले ही मैच में 3 गोल किए थे। उन्होंने टीम को 6-0 से जीत दिलाई थी। जबकि उन्होंने अपना अंतिम इंटरनेशनल मैच 1 मार्च 2006 को कोस्टा रिका के खिलाफ खेला था

 

 

गलवान झड़प के 80 दिन बाद पहली बैठक:रूस में राजनाथ और चीनी रक्षा मंत्री के बीच ढाई घंटे चर्चा हुई, भारत की दो टूक- एलएसी पर सेना बढ़ाना समझौते का उल्लंघन

  • राजनाथ सिंह ने साफ किया- सीमा पर चीन का अपने सैनिकों को बढ़ाना अग्रेसिव बिहेवियर, भारत की संप्रभुता से कोई समझौता नहीं
  • 15 जून को लद्दाख के गलवान में हिंसक झड़प हुई थी, इसके 75 दिन बाद चीन ने फिर घुसपैठ की कोशिश की

गलवान झड़प (15 जून) के बाद पहली बार भारत और चीन के रक्षा मंत्रियों के बीच शुक्रवार को रूस में आमने-सामने बातचीत हुई। ढाई घंटे चली ये बैठक शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) की मीटिंग के इतर हुई। बातचीत का मुख्य मुद्दा सीमा विवाद ही रहा।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीनी रक्षा मंत्री जनरल वेई फेंगे से कहा कि गलवान घाटी समेत लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर बीते कुछ महीनों में तनाव रहा है। सीमा पर चीन का अपने सैनिकों को बढ़ाना आक्रामक बर्ताव (अग्रेसिव बिहेवियर) को दिखाता है। यह द्विपक्षीय समझौते का उल्लंघन है।

राजनाथ ने यह भी कहा कि भारतीय सेनाओं ने सीमा पर हमेशा संयमित व्यवहार दर्शाया है। लेकिन, यह भी सच है कि इसी दौरान हमने भारत की संप्रभुता (सॉवेरीनटी) और सीमाओं की रक्षा से कोई समझौता नहीं किया। दोनों पक्षों को अपने नेताओं की समझ-बूझ के निर्देशन में काम करना चाहिए, ताकि सीमा पर शांति कायम रह सके। साथ ही दोनों पक्षों को उन चीजों में नहीं उलझना चाहिए, जिससे विवाद बढ़े।

राजनाथ की चीन को सलाह
रक्षा मंत्री ने अपने काउंटरपार्ट से कहा कि चीन को जल्द ही भारत के साथ मिलकर काम करना चाहिए, ताकि लद्दाख में समझौते और प्रोटोकॉल के आधार पर सभी विवादित जगहों मसलन पैंगॉन्ग झील के इलाके से दोनों तरफ के सैनिकों का डिएस्केलेशन शुरू किया जा सके। जो मौजूदा हालात हैं, उसे देखते हुए दोनों पक्षों को जिम्मेदारी दिखाना चाहिए। कोई भी ऐसा एक्शन न लें, जिससे स्थिति और तनावपूर्ण हो।

चीन से सामान्य व्यवहार संभव नहीं
इंडियन काउंसिल ऑफ वर्ल्ड अफेयर्स (आईसीडब्ल्यूए) के वेबिनार में विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने भी कहा कि भारत किसी भी हालत में अपनी सॉवेरीनटी से समझौता नहीं करेगा। जब तक सीमा पर शांति कायम नहीं हो जाती, तब तक चीन से सामान्य व्यवहार संभव नहीं है। हम बातचीत से मसला हल करने को तैयार हैं।

मई से चीन सीमा पर हालात तनावपूर्ण
15 मई को लद्दाख के गलवान में चीन के सैनिकों ने भारतीय जवानों पर कंटीले तारों से हमला कर दिया था। इसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। जवाबी कार्रवाई में चीन के भी 35 सैनिक मारे गए, पर उसने अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की। विवाद को हल करने के लिए बीते महीनों में चीन और भारत के बीच कई बार सैन्य और आधिकारिक स्तर की बातचीत हो चुकी हैं, पर चीन हरकतों से बाज नहीं आ रहा।

75 दिन बाद फिर चीन की घुसपैठ
31 अगस्त को रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को एक नोट जारी किया। इसमें कहा गया है कि चीन ने फिर यथास्थिति (Status Quo) का उल्लंघन किया है। नोट के मुताबिक, 29 अगस्त की रात चीनी सेना ने पूर्वी लद्दाख के भारतीय इलाके में घुसपैठ की कोशिश की। भारतीय जवानों ने चीनी सैनिकों की इस कोशिश को नाकाम कर दिया।

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, इससे पहले चीन ने लद्दाख के पास अपने जे-20 फाइटर प्लेन भी तैनात कर दिए थे। रक्षा मंत्रालय ने यह भी बताया कि भारतीय सेना ने चीन के सैनिकों को पैंगॉन्ग सो झील के दक्षिणी किनारे पर ही रोक दिया।